समर्थक

सोमवार, 5 सितंबर 2011

टेस्ट चर्चा मंच के नये चर्चाकार-नीलकमल वैष्णव "अनिश" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")


टेस्ट चर्चा मंच के नये चर्चाकार हैं!
 Mitra-Madhur (64).jpg 
इनका संक्षिप्त परिचय निम्नवत है!
शिक्षा- स्नातक (सारंगढ़ डिग्री कॉलेज)

कृतित्व- विगत एक दशक से ग्रामीण अंचल में सक्रिय पत्रकारिता और साहित्य
सृजन विभिन्न पत्र -पत्रिकाओं पुष्पगंधा प्रकाशन कवर्धा, खगौल पटना से
संचालित "दोस्तों की दुनियाँ", शारदा साहित्य संस्था जोगीवाला, आकृति
प्रकाशन पीलीभीत, नारी अस्मिता बड़ोदरा जैसे पत्रिकाओं में कविताओं का
प्रकाशन

सम्मान-  पुष्पगंधा प्रकाशन कवर्धा से २००५ में "काव्य-सुमन",खगौल पटना
से संचालित "दोस्तों की दुनियाँ" से श्रेष्ठ काव्य संवाददाता, शारदा
साहित्य संस्था जोगीवाला से २००५ में "काव्य-गीतांजलि", आकृति प्रकाशन
पीलीभीत से २००६ में "काव्य-कलश"

सम्प्रति- उपाध्यक्ष छत्तीसगढ़ लेखक संघ  (लेखक संघ कोसीर),
उपसंस्थापक "मित्र-मधुर"2004 जहां विभिन्न जगहों अलग अलग राज्यों की दोस्तों की
अमूल्य मंडली,एवं खगौल पटना से संचालित "दोस्तों की दुनियाँ" में कवि-

संवाददाता,  
अभी कुछ चर्चाएँ ये यहीं पर लगाएँगे!
स्वागत और अभिनन्दन करता हूँ! 
हिन्दी के महीने सितम्बर में 
प्रस्तुत है इनकी यह रचना!
हिंदी महिमा.....
हिंदी हिन्दुस्तानी, हिंद की ये भाषा
इस हिंदी में छिपी हुई है, उन्नति की परिभाषा
भारत माता की उर माला का, मध्य पुष्प है हिंदी
माता के मस्तक पर, जैसे शोभित हो बिंदी
यह भरती गागर में सागर, लिखता जग देख ठगा सा
!! हिंदी ....................................... परिभाषा !!
इस हिंदी में महाकाव्य रच तुलसी हुए महान
अर्थ गंभीर ललित श्रृंगारिक, सब करते गुणगान
नीराजन यह भूमि भारत का, जन-जन की है यह आशा
!! हिंदी ....................................... परिभाषा !!
अपनी संस्कृति अपनी मर्यादा, अपनी भाषा का ज्ञान
यही एक पाथेय हमारा, रहे सदा यह ध्यान
बिन इसके यदि बढ़ा कदम, हम बनेंगे जग में तमाशा
!! हिंदी ....................................... परिभाषा !!
अपनी भाषा की समर्थता से, हम सामर्थ्य बढ़ाये
प्रगति वास्तविक है तब ही, जब सब हिंदी अपनाएं
भारत का उत्थान है हिंदी, अमृत निर्झर झरता सा
!! हिंदी ....................................... परिभाषा !!
अपने घर में अपनी भाषा हिंदी अपमानित न होवें
वह है अभागा अमृत पाकर कालजयी जो ना होवें
हिंदी सेवा में जुटकर साथी, अब झटके दूर हताशा
!! हिंदी ....................................... परिभाषा !!
हिंदी पर गर्व करेंगे जब हम, देश महान बनेगा
दिग दिगंत में व्यापित हिंदी नवल वितान बनेगा
भारत का मान बढेगा ऐसा, होगा अम्बर झुका-झुका सा
!! हिंदी ....................................... परिभाषा !!

मंगलवार, 9 अगस्त 2011

टैस्ट चर्चा मंच की दूसरी चर्चाकार "बबली"

टैस्ट चर्चा मंच की नई चर्चाकार
का मैं स्वागत और अभिनन्दन करता हूँ!
इस मंच पर ये अपनी चर्चा 
शनिवार, रविवार, सोमवार और मंगलवार को लगाएँगी!

♥ संक्षिप्त परिचय ♥
निवासी-Perth : Western Australia : Australia
ये अपने बारे में कहती हैं!
I am a very cheerful, friendly and fun loving girl and have a great passion for travelling as I love to explore new places, love cooking, reading books, writing Hindi poems and English articles by which I am able to express my thoughts and feelings.
इनके ब्लॉग्स हैं!

सोमवार, 8 अगस्त 2011

"टेस्ट चर्चा-2" (विद्यामनीषा)


नमस्कार मित्रों!
आज की चर्चा में आप सबका हार्दिक स्वागत है


परियों की शहजादी...

from रुनझुन

नाचते ही जा रहे हैं, अंकल सैम

सिमटी रहे तू मुझमे


from
"हरएक आँख में नमी" by -कुसुम ठाकुर-

Kusum's Journey (कुसुम की यात्रा)


जिंदगी क्या है,

माटी की गागरिया................(बवाल)

इंतजार में बैठी हूँ ?

ये अधूरी जिंदगी

बारिश


लघु-कथा : दुर्मुख-विजयी सोच |

From


कुछ कहना है"

by

कुछ तो है उनमें ,जो किसी और में नहीं


"बस यूँ ही " .......अमित »
by

"आहट".....आँसुओं की...

नैतिक रूपांतरण की जरुरत है ....

थकी जिंदगी की ख्वाहिश

From "मेरे भाव मेरी कविता" »
by

शायद किसी जन्म में हम मिले थे कभी

From *गद्य-सर्जना* »by From हल्ला बोल »

भगवान को मानने में शर्म कैसी ........

अपने कंप्यूटर को दे बेहतरीन सुरक्षा

शायद उनके परिवार में किसी को Cancer नहीं हुआ...

आज के लिए बस इतना ही …
फिर मिलते हैं ..नयी प्रविष्टियाँ ले कर!

बताइए तो मेरी चर्चा कैसी रही?

इंतजार में बैठी हूँ ?

---
यह चर्चा कल के चर्चा मंच पर भी होगी!

गुरुवार, 4 अगस्त 2011

"टैस्ट चर्चा मंच की सहयोगी" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")


मित्रों!

     आज में आपका परिचय एक ऐसी ब्लॉगर से करा रहा हूँ जो बहुत जल्दी चर्चा मंच” की चर्चाकार बन जाएँगी। अभी यह टैस्ट चर्चा मंच पर चर्चा लगाने क अभ्यास कर रहीं हैं मगर जैसे ही पारंगत हो जाएँगी इन्हें चर्चा मंच से जोड़ लिया जाएगा।
ये हैं चैन्नई की निवासिनी
श्रीमती विद्या और इनका उपनाम है मनीषा जो इनकी बेटी का नाम है!
इनके पति का नाम है श्री बी.विश्वनाथन। विद्या जी की प्रारम्भिक शिक्षा कोलकाता में सम्पन्न हुई थी और ये वर्तमान में चैन्नई के एक कैंसर उन्मूलन ट्रस्ट में कार्यरत हैं।
     इन्होंने अपनी ब्लॉगिंग जून, 2011 से चैन्नई के अपने किसी मित्र के सहयोग से शुरू की है।
     इनका एक अपना ब्लॉग है!

Love Everybody

जिसका यू.आर.एल है!

"आप सब का स्वागत चर्चा मंच पर! नए जोश के साथ!" (विद्या मनीषा)

पहले सब को मेरा नमस्कार ,यह चर्चा मंच बहुत कुछ सिखाता है बहुत  कुछ जाने ने को  मिलता है यह हम सब की एक चाबी है ! इसमे सब कुछ इकठा ही एक जगह पढ़ने को मिल जाता है!

(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)  जी को मेरा नमन

१. 
१५ अगस्त के बलिदानों को समर्पित किया  गया यह


“आजादी की वर्षगाँठ तो एक साल में आती है” (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)

२.
  इनका बात ही निराला है ,इनकी रचनाये बहुत खूब
३.

 कौशल  की बाते 


मेक-अप से बिगाड़ करती महिलाएं

४.
रविकर जी के क्या कहने    

अंत उफ़ आसान थोड़ा


बीच  में  ही *फींच छोड़ा |          * धोना 
दर्द  रिश्ते  से  रिसा  तो, खूबसूरत   मोड़   मोड़ा  |   
 मीनाक्षी क्या कहती है ?

एक पिता के कुछ यादगार पल बच्चों के नाम ...

 ६.

अपनी पहचान को तलाशता आगरा......ताजनगरी.....एक विरासतों का शहर

७.

विसू जी के क्या कहने दोस्ती का पैगाम


फूलों सी नाजुक चीज है दोस्ती

 

हे प्रभु अब लौट आओ ! ...... लक्ष्मी नारायण लहरे .

हे प्रभु अब लौट आओ ,
ज्ञान के विधाता ,
प्रेम की दयानिधि 
मनुष्य के उद्धार करता

९.

गणपति वंदना !!मोरिया 

 Kusum ठाकुर
आप सब को अच्छा लगा होगा फिर मिलेगे 

मंगलवार, 2 अगस्त 2011

"सूचना" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

मान्यवर,
        यह टैस्ट चर्चा मंच उन नये व्यक्तियों के लिए है, जो चर्चा मंच से जुड़कर चर्चा करने के इच्छुक हैं। आप अपने चर्चा करने के ढंग को नमूने के रूप में अपनी एक चर्चा करके यहाँ दिखाइए। उसके बाद मैं निर्णय करूँगा कि आप चर्चा करने में सक्षम हैं या नहीं!
आप कृपया मेरी स्पष्टवादिता को अन्यथा नहीं लेंगे।
सादर-साभार
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
                            खटीमा (उत्तराखण्ड) 
पिनकोड-262308
सम्पर्क-0936849992,
09997996437  
आप मेरे निम्न ई-मेल पर भी सम्पर्क कर सकते हैं!
roopchandrashastri@gmail.com

मान्यवर,

यह टैस्ट चर्चा मंच उन नये व्यक्तियों के लिए है, जो चर्चा मंच से जुड़कर चर्चा करने के इच्छुक हैं। आप अपने चर्चा करने के ढंग को अपनी चर्चा करके यहाँ दिखाइए। मैं आपकी इस कार्य में पूरी सहायता करूँगा। उसके बाद यदि आप चर्चा करने में सक्षम होंगे तो आपको चर्चा मंच के चर्चाकार के रूप में जोड़ लिया जाएगा!

सादर-साभार

डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक

खटीमा (उत्तराखण्ड) 262308

सम्पर्कः 09368499921, 09997996437

आप मेरे निम्न ई-मेल पर भी सम्पर्क कर सकते हैं!

roopchandrashastri@gmail.com