समर्थक

गुरुवार, 4 अगस्त 2011

"आप सब का स्वागत चर्चा मंच पर! नए जोश के साथ!" (विद्या मनीषा)

पहले सब को मेरा नमस्कार ,यह चर्चा मंच बहुत कुछ सिखाता है बहुत  कुछ जाने ने को  मिलता है यह हम सब की एक चाबी है ! इसमे सब कुछ इकठा ही एक जगह पढ़ने को मिल जाता है!

(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)  जी को मेरा नमन

१. 
१५ अगस्त के बलिदानों को समर्पित किया  गया यह


“आजादी की वर्षगाँठ तो एक साल में आती है” (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)

२.
  इनका बात ही निराला है ,इनकी रचनाये बहुत खूब
३.

 कौशल  की बाते 


मेक-अप से बिगाड़ करती महिलाएं

४.
रविकर जी के क्या कहने    

अंत उफ़ आसान थोड़ा


बीच  में  ही *फींच छोड़ा |          * धोना 
दर्द  रिश्ते  से  रिसा  तो, खूबसूरत   मोड़   मोड़ा  |   
 मीनाक्षी क्या कहती है ?

एक पिता के कुछ यादगार पल बच्चों के नाम ...

 ६.

अपनी पहचान को तलाशता आगरा......ताजनगरी.....एक विरासतों का शहर

७.

विसू जी के क्या कहने दोस्ती का पैगाम


फूलों सी नाजुक चीज है दोस्ती

 

हे प्रभु अब लौट आओ ! ...... लक्ष्मी नारायण लहरे .

हे प्रभु अब लौट आओ ,
ज्ञान के विधाता ,
प्रेम की दयानिधि 
मनुष्य के उद्धार करता

९.

गणपति वंदना !!मोरिया 

 Kusum ठाकुर
आप सब को अच्छा लगा होगा फिर मिलेगे 

3 टिप्‍पणियां:

  1. विद्या जी!
    आपने अच्छी चर्चा की है मगर अभी आप लिंक लगाने में पारंगत नहीं हैं!
    --
    दो चार चर्चा और लगाइए परीक्षण के लिए और अभ्यास के लिए भी!
    --
    कुछ दिनों में आपको चर्चा मंच के चर्चाकार के रूप में जोड़ लिया जाएगा!

    उत्तर देंहटाएं
  2. विद्या जी की चर्चा मंच परीक्षण में एंट्री ज़ोरदार रही .डॉ .शाष्त्री मयंक जी नए हस्ताक्षर गढ़ रहें हैं .बधाई .
    शुक्रवार, ५ अगस्त २०११
    Erectile dysfunction? Try losing weight Health
    ...क्‍या भारतीयों तक पहुच सकेगी यह नई चेतना ?
    Posted by veerubhai on Monday, August 8
    Labels: -वीरेंद्र शर्मा(वीरुभाई), Bio Cremation, जैव शवदाह, पर्यावरण चेतना, बायो-क्रेमेशन /http://sb.samwaad.com/

    उत्तर देंहटाएं

मित्रों! आपकी सकारात्मक टिप्पणियों का सदैव स्वागत है।
हमारे किसी हितैषी ने चर्चा मंच के मुख्य ब्लॉग को अस्थायीरूप से प्रतिबन्धित करा दिया है। गूगल में अपील कर दी गयी है। जल्दी ही खुल जाने की आशा है।

मान्यवर,

यह टैस्ट चर्चा मंच उन नये व्यक्तियों के लिए है, जो चर्चा मंच से जुड़कर चर्चा करने के इच्छुक हैं। आप अपने चर्चा करने के ढंग को अपनी चर्चा करके यहाँ दिखाइए। मैं आपकी इस कार्य में पूरी सहायता करूँगा। उसके बाद यदि आप चर्चा करने में सक्षम होंगे तो आपको चर्चा मंच के चर्चाकार के रूप में जोड़ लिया जाएगा!

सादर-साभार

डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक

खटीमा (उत्तराखण्ड) 262308

सम्पर्कः 09368499921, 09997996437

आप मेरे निम्न ई-मेल पर भी सम्पर्क कर सकते हैं!

roopchandrashastri@gmail.com