समर्थक

गुरुवार, 18 फ़रवरी 2016

"अस्थायीरूप से चर्चा मंच लॉक" (वैकल्पिक चर्चा मंच अंक-2)

मित्रों।
सात वर्षों से प्रतिदिन अनवरतरूप से 
ब्लॉगों की अद्यतन प्रविष्टियाँ दिखा रहे
आप सब ब्लॉगरों की पहली पसन्द "चर्चा मंच" को
किसी शरारती व्यक्ति की शिकायत पर अस्थायीरूप से
लॉक किया गया है। गूगल को अपील कर दी गयी है।
तब तक आपके लिंकों का सिलसिला यहाँ
"वैकल्पिक चर्चा मंच" पर जारी रहेगा।
--
आज देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'
--

खुश हुआ दीनू 

Fulbagiya पर डा0 हेमंत कुमार 
--
--

सुरभि 

जो आगे की सोच कर चलता है और कठोर धरती को नहीं छोड़ता है वही सरल जीवन जी पाता है |
 सदा भविष्य को ध्यान में रख कर आने वाले कल के लिए प्लानिग करना चाहिए और बचत करने की आदत डालना चाहिए ... 
Akanksha पर Asha Saxena 
--

'' हम सब तो आम हैं '' नामक नवगीत , 

स्व. श्री श्रीकृष्ण शर्मा के नवगीत संग्रह - 

'' एक अक्षर और '' से लिया गया है - 

हम सब तो आम हैं , खास नहीं , 
अपना कोई इतिहास नहीं। 
अपने हैं संग - साथ 
तकलीफें , पीड़ा है , आँसू हैं हैं चीखें , 
सपनों की हमको तलाश नहीं... 
--
--
--
--
हर डाल छुई- मुई नहीं होती
हर शाम सुरमई नहीं होती -
कृत कथ्यों  को गुनना होगा
हर बात आई गई नहीं होती ... 
udaya veer singh 
--
--

कुछ अलाहदा शे’र : 

तक़्दीर देखिए 

1-  
ऐसी ‘बहार’ क्या न हो जिसमें विसाले यार 
हर बार ये ही सोचूँ मैं तक़्दीर देखिए 
-‘ग़ाफ़िल 
चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’  
--
--

दुर्योधन को चुने या युधिष्ठिर को। 

 हम सब एक हैं फिर बंटते क्यों हैं? 
डरते क्यों हैं? 
हमारे पास शक्ति है 
दुर्योधन को चुने 
या 
युधिष्ठिर को... 
पर kuldeep thakur  
--

कैसा ये खेल है सूत्रधार का .... 

रंगमंच सी दुनिया है ,  
सूत्रधार की कल्पना से परे !  
पुरुषों के दो सिर हैं  
और स्त्रियां हैं यहाँ बिना सिर की ! 
बेटे के पिता का सिर ,  
बेटी के पिता से कितना भिन्न है... 
नयी उड़ान + पर Upasna Siag  
--

पत्नी वो होती है जो --- 

पत्नी वो होती है जो , 
बोल बोल कर, पति की बोलती बंद कर दे , 
फिर बोले कि आप कुछ बोलते क्यों नहीं ! 
पत्नी वो होती है जो , 
पहले बच्चे को खिला खिला कर बीमार कर दे , 
फिर डॉक्टर से कहे कि ये कुछ खाता क्यों नहीं ... 
अंतर्मंथन पर डॉ टी एस दराल  

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

मित्रों! आपकी सकारात्मक टिप्पणियों का सदैव स्वागत है।
हमारे किसी हितैषी ने चर्चा मंच के मुख्य ब्लॉग को अस्थायीरूप से प्रतिबन्धित करा दिया है। गूगल में अपील कर दी गयी है। जल्दी ही खुल जाने की आशा है।

मान्यवर,

यह टैस्ट चर्चा मंच उन नये व्यक्तियों के लिए है, जो चर्चा मंच से जुड़कर चर्चा करने के इच्छुक हैं। आप अपने चर्चा करने के ढंग को अपनी चर्चा करके यहाँ दिखाइए। मैं आपकी इस कार्य में पूरी सहायता करूँगा। उसके बाद यदि आप चर्चा करने में सक्षम होंगे तो आपको चर्चा मंच के चर्चाकार के रूप में जोड़ लिया जाएगा!

सादर-साभार

डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक

खटीमा (उत्तराखण्ड) 262308

सम्पर्कः 09368499921, 09997996437

आप मेरे निम्न ई-मेल पर भी सम्पर्क कर सकते हैं!

roopchandrashastri@gmail.com